Header Ads

अरविंद केजरीवाल ने डेंगू के खिलाफ विशेष अभियान शुरू किया


नयी दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को डेंगू के खिलाफ अभियान की शुरुआत अपने घर से की और इस दौरान उन्होंने पूरे घर का निरीक्षण किया ताकि कहीं पानी जमा न हो। उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, मंत्री गोपाल राय, राजेंद्र पाल गौतम और आतिशी सहित दिल्ली सरकार के मंत्रियों और आम आदमी पार्टी के नेताओं ने भी अपने घरों का निरीक्षण किया ताकि कहीं जमा पानी न हो।
नयी दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को डेंगू के खिलाफ अभियान की शुरुआत अपने घर से की और इस दौरान उन्होंने पूरे घर का निरीक्षण किया ताकि कहीं पानी जमा न हो। उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, मंत्री गोपाल राय, राजेंद्र पाल गौतम और आतिशी सहित दिल्ली सरकार के मंत्रियों और आम आदमी पार्टी के नेताओं ने भी अपने घरों का निरीक्षण किया ताकि कहीं जमा पानी न हो।
मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘शनिवार को मुझे इंस्टाग्राम पर किया गया सर्वेक्षण मिला। मैंने प्रतिभागियों से पूछा कि क्या वे जानते हैं कि डेंगू फैलाने वाले मच्छर साफ पानी में पनपते हैं। आप जानकर हैरान होंगे कि 35 प्रतिशत प्रतिभागियों ने बताया कि डेंगू के मच्छर गंदे पानी में पनपते हैं।’’ केजरीवाल ने कहा, ‘‘मैं सभी को बताना चाहता हूं कि डेंगू फैलाने वाले मच्छर (एडीज एजिप्टी) साफ पानी में पनपते हैं जो सामान्यत: हमारे घरों में होता है। ये मच्छर 200 मीटर से अधिक दूरी तक नहीं उड़ सकते... इसका मतलब है कि ये आप के घर में या पड़ोस में पनपते हैं।
उन्होंने कहा,‘‘ वर्ष 2015 में डेंगू के 15,000 मामले सामने आए थे और 60 लोगों की मौत हुई थी। वर्ष 2018 में यह संख्या घटकर 2,798 और चार मौतों पर आ गई। हम इसे और कम करना चाहते हैं। हम सुनिश्चित करना चाहते हैं कि इस साल डेंगू से एक भी मौत न हो।’’ इसके साथ ही केजरीवाल ने लोगों से सोशल मीडिया पर तस्वीर और वीडियो पोस्ट कर अभियान को लोकप्रिय बनाने की अपील की। सिसोदिया ने ट्विटर पर जमा पानी साफ करते हुए अपनी तस्वीर साझा करते हुए लिखा, ‘‘परिवार को डेंगू से बचाने के लिए यह जरूरी है कि मेरा घर बीमारी फैलाने वाले मच्छरों के पनपने का स्थान न बने।’’ दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को सभी संबंधित एजेंसियों और विभागों को डेंगू के खिलाफ अभियान को जन आंदोलन बनाने को कहा। इस हफ्ते नगर निगम की ओर से जारी रिपोर्ट के मुताबिक इस साल राष्ट्रीय राजधानी में डेंगू के 75 मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें से 


No comments