Header Ads

राहुल गांधी के इस्तीफे की पेशकश के बाद AICC का सम्मेलन बुला सकती है कांग्रेस


कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अध्यक्ष पद से इस्तीफे की पेशकश के बाद उन्हें मनाने की कोशिश जारी है। राहुल गांधी के इस्तीफे की पेशकश को नामंजूर किए जाने के कांग्रेस कार्यसमिति के प्रस्ताव पर मुहर लगाने के लिए पार्टी एआईसीसी का अधिवेशन बुलाने की तैयारी कर रही है। पार्टी का कहना है कि इस सम्मेलन के जरिए राहुल गांधी को देशभर के कार्यकर्ताओं से संवाद का मौका मिलेगा।
पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि सीडब्लूसी में पारित किए गए प्रस्तावों पर एआईसीसी अधिवेशन में पास कराना जरुरी होता है। ऐसे में पार्टी जल्द एआईसीसी का सम्मेलन बुला सकती है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भी देशभर से आए एआईसीसी सदस्यों से सीधा संवाद करने का मौका मिलेगा। सम्मेलन में आने वाले करीब दो हजार कार्यकर्ता भी अपनी बात कांग्रेस अध्यक्ष तक पहुंचा पाएगें।
कांग्रेस नेता ने कहा कि 2004 में जब तत्कालीन पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री बनने से इनकार कर दिया था, तब एआईसीसी सम्मेलन के जरिए उन्होंने कार्यकर्ताओं से दबाव नहीं डालने की अपील की थी। इसके बाद सब सामान्य हो गया था। पार्टी को उम्मीद है कि देशभर से आए कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद करने के बाद राहुल गांधी अपने फैसले पर पुनर्विचार कर सकते हैं।
एक जून को संसदीय दल की बैठक
कांग्रेस संसदीय दल की बैठक एक जून को संसद भवन में हो सकती है। इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी मौजूद रहेंगे। बैठक में लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता का चुनाव किए जाने की संभावना है। इससे साथ यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी कांग्रेस संसदीय दल की अध्यक्ष पद पर बनी रहेंगी। पार्टी के कई नेताओं की मांग है कि मौजूदा हालात में राहुल गांधी को संसदीय दल के नेता की जिम्मेदारी संभालनी चाहिए। पार्टी के अंदर शशिथरुर और मनीष तिवारी का नाम की भी चर्चा है।

No comments