Header Ads

माया-अखिलेश ने कांग्रेस से पूरी तरह किनारा किया, बसपा सुप्रीमो ने कहा, कांग्रेस भ्रम न फैलाए


बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कांग्रेस से पूरी तरह किनारा कर लिया है। सपा-बसपा गठबंधन के लिए सात सीटें छोड़ने के कांग्रेस के ऐलान के एक दिन बाद मायावती ने सख्त लहजे में कहा कि कांग्रेस भ्रम न फैलाए, उससे किसी तरह का कोई गठबंधन नहीं है। कुछ ही देर बाद अखिलेश यादव ने भी कहा, हमारा गठबंधन भाजपा को हराने में सक्षम है।
देशभर में किसी प्रकार का तालमेल नहीं: यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने रविवार को सपा-बसपा गठबंधन के लिए सात सीटें छोड़ने का ऐलान किया था। इस पर सोमवार को मायावती ने ट्वीट कर कहा कि बसपा फिर स्पष्ट कर देना चाहती है कि यूपी सहित पूरे देश में कांग्रेस से हमारा किसी भी प्रकार का तालमेल नहीं है। समाज के लोगों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि हमारे लोग कांग्रेस द्वारा फैलाए जा रहे किस्म-किस्म के भ्रम में कतई ना आएं। 
कांग्रेस चाहे तो प्रदेश की सभी सीटों पर लड़े:मायावती ने कहा है कि कांग्रेस यूपी में भी पूरी तरह स्वतंत्र है । वह चाहे तो यहां की सभी 80 सीटों पर उम्मीदवार खड़ा करके अकेले चुनाव लड़े। हमारा यहां बना गठबंधन अकेले भाजपा को पराजित करने में पूरी तरह से सक्षम है।
गठबंधन भाजपा को अकेले हराने में सक्षम: थोड़ी ही देर बाद अखिलेश यादव भी कांग्रेस पर हमलावर हुए। माया के सुर में सुर मिलाते हुए उन्होंने ट्वीट किया कि यूपी में सपा, बसपा और रालोद का गठबंधन भाजपा को हराने में सक्षम है। कांग्रेस कोई भ्रम पैदा ना करे।
प्रियंका बोलीं, भाजपा से लड़ाई:
प्रयागराज से वाराणसी तक बोट यात्रा कर रहीं प्रियंका गांधी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि हमारे अंदर किसी प्रकार का कन्फ्यूजन नहीं है, हमारी लड़ाई भाजपा के खिलाफ है।
कांग्रेस ने किया था सात सीटें छोड़ने का ऐलान 
कांग्रेस के यूपी अध्यक्ष राजबब्बर ने रविवार को सपा-बसपा गठबंधन के लिए सात सीटें छोड़ने का ऐलान किया था। उन्होंने कहा था कि उनकी पार्टी मुलायम सिंह यादव की मैनपुरी, अखिलेश की पत्नी डिंपल यादव की कन्नौज, रामगोपाल यादव के पुत्र अक्षय यादव की सीट फिरोजाबाद के साथ मायावती और रालोद के अजित सिंह, जयंत चौधरी के खिलाफ कोई प्रत्याशी नहीं उतारेगी।
दिल्ली: ‘आप’ की ना कांग्रेस में असमंजस
दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) और कांग्रेस के बीच गठबंधन की डोर सुलझने के बजाए उलझती जा रही है। ‘आप’ गठबंधन से इनकार करते हुए सभी सीट पर उम्मीदवार घोषित कर चुकी है। वहीं, कांग्रेस में अभी तक गठबंधन को लेकर असमंजस की स्थिति बरकरार है। 
झारखंड: महागठबंधन में सीट बंटवारा 24 तक
बिहार में भले सीटें तय न हुई हों लेकिन झारखंड में महागठबंधन की सीटों की घोषणा 24 मार्च को होगी। झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता हेमंत सोरेन ने कहा कि कुछ ही दिन बाद उम्मीदवारों की भी घोषणा हो जाएगी।
बिहार: राहुल गांधी से मिलेंगे तेजस्वी यादव
बिहार में महागठबंधन में सीट बंटवारे को लेकर दलों के बीच सहमति नहीं बन पा रही है। सहमति बनाने के लिए राजद नेता तेजस्वी यादव जल्द कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ मुलाकात कर सकते हैं। 

No comments