Header Ads

सैन्य कार्रवाई और धार्मिक स्थलों का प्रयोग चुनाव प्रचार में शामिल न करें-आयोग


नई दिल्ली । चुनाव आयोग ने मंगलवार को राजनीतिक दलों और धार्मिक नेताओं को निर्देश दिया कि लोकसभा चुनाव के दौरान धार्मिक स्थलों और सेना की कार्रवाई का इस्तेमाल प्रचार के लिए न करें। ऐसी गतिविधियों का भी हिस्सा न बनें, जिससे अलग-अलग समुदाय और जातियों के बीच तनाव पैदा हो।
आयोग ने मंगलवार को जारी एडवाइजरी में कहा, 'पार्टी और उनके प्रत्याशियों को सलाह दी जाती है कि वह या उनके कार्यकर्ता चुनाव प्रचार में सेना की कार्रवाई को शामिल न करें।'
एक अन्य मामले में आयोग ने दिल्ली के भाजपा विधायक ओम प्रकाश शर्मा को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। उन्होंने फेसबुक पर वायुसेना के पायलट अभिनंदन वर्तमान के साथ अपना और पीएम मोदी की तस्वीर साझा की थी। उन्हें तत्काल वह पोस्ट हटाने के भी निर्देश दिए गए हैं। वहीं, दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि चुनाव आचार संहिता के अनुसार चुनाव प्रचार के दौरान जाति और धर्म का इस्तेमाल पूरी तरह प्रतिबंधित है। राजनीतिक या धार्मिक नेता को ऐसी गतिविधियों की बिल्कुल इजाजत नहीं दी जा सकती, जिससे समाज में तनाव बढ़े। 

No comments