Header Ads

कांग्रेस सरकार ने गरीबों के लिए नहीं किया कोई काम : अमित शाह


मिशन 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहली चुनावी रैली गुरुवार को मेरठ और फिर उत्तराखंड के रुद्रपुर में की। इसके अलावा असम में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार ने गरीबों के लिए कोई काम नहीं किया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने देश को सुरक्षित करने का काम किया है। असम के विकास के लिए पांच साल में 2 लाख 94 हजार करोड़ रुपए देने का काम मोदी सरकार ने किया है।
अपनी रैली के दौरान पीएम मोदी ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा कि जरा सोचिए 26 फरवरी को हमारे वीर सैनिकों ने जो पराक्रम किया, यदि उसमें थोड़ी सी भी गड़बड़ हो जाती तो ये लोग क्या करते। मेरे साथ ये लोग क्या करते। ये सब मेरा इस्तीफा मांगते। दुनियाभर की गालियां देते। ये कोई भी चुप नहीं बैठते और सारा दोष मोदी को देते। पीएम मोदी ने कहा कि महामिलावटी लोग भ्रष्टाचारियों के साथ हैं। इनकी सरकार में गुंडे और बदमाश बेलगाम थे। क्या ऐसी महामिलावटी सरकार में देश सुरक्षित रहेगा? पीएम मोदी ने कहा कि मेरठ और पश्चिमी यूपी तो इनके कारनामों की भुगत चुका है। जब से योगी जी की सरकार आई है, तब से गुंडों और बदमाशों में डर और भय है। बेटियों के साथ अत्याचार करने वाले आज सौ बार सोचते हैं क्योंकि आपके इस चौकीदार ने ऐसे लोगों को फांसी तक का प्रावधान कर लिया है। ये बातें मैं इस लिए बता रहा हूं क्योंकि हम सभी मिलकर बीते पांच सालों में देश को जिस स्थिति से निकाल कर लाए हैं, उसे और मजबूत करना होगा। 
वहीं बागी भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने राहुल गांधी से मुलाकात की। पटनासाहिब से टिकट कटने के बाद सिन्हा  की आज कांग्रेस ज्वॉइन करने की अटकलें थी। बताया जा रहा है कि कांग्रेस उन्हें बिहार की पटनासाहिब सीट से अपना उम्मीदवार बना सकती है। वह इस सीट से लगातार दो बार भाजपा के टिकट पर जीत चुके हैं। बीजेपी ने इस बार केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को पटनासाहिब से टिकट दिया है। महागठबंधन में सीटें तय कर ली गई हैं। सबकी सहमति से यह तय हो चुका है कि किस दल को कहां से उम्मीदवार देना है। गुरुवार को इसकी घोषणा महागठबंधन में शामिल दलों के नेता कर देंगे। 
कांग्रेस की महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा गुरुवार 28 मार्च को पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली के दौरे पर हैं। यहां पर वह कार्यकर्ताओं के साथ  मुलाकात कर रही हैं और चुनावी रणनीति पर चर्चा कर रही हैं। गुरुवार से तीसरे चरण के लिए अधिसूचना के साथ ही नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई है। 4 अप्रैल तक नामांकन दाखिल हो सकेंगे। 5 अप्रैल तक नामांकन पत्रों की जांच होगी। 8 अप्रैल तक नाम वापस लिए जा सकेंगे। तीसरे चरण में 14 राज्यों की 115 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। इसमें बिहार -5 सीट, उत्तर प्रदेश-10 सीटें, असम-4 सीट, छत्तीसगढ़-7 सीट, गुजरात-26 सीट, गोवा-2 सीट, जम्मू-कश्मीर -1सीट, कर्नाटक -14सीट, केरल-20सीट, महाराष्ट्र-14 सीट, ओडिशा-6 सीट, पश्चिम बंगाल-5सीट, दादर नागर हवेली-1सीट, दमन दीव-1 सीट पर मतदान होना है।

No comments