Header Ads

कानूनी प्रक्रिया खत्‍म होने तक राम मंदिर पर अध्‍यादेश नहीं : पीएम मोदी


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एएनआई को दिए इंटरव्यू में कई मुद्दों पर पूछे गए सवालों के जवाब दिए। उन्होंने राममंदिर पर अध्यादेश, नोटबंदी, पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजों और पाकिस्तान पर पूछे गए सवालों पर जवाब दिए हैं। उन्होंने इस इंटरव्यू के दौरान बताया कि नोटबंदी झटके में लिया गया फैसला नहीं था और इसके लिए एक साल पहले ही आगाह कर दिया गया था। पीएम मोदी ने कहा, राम मंदिर अध्यादेश पर कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही विचार किया जाएगा।
पीएम मोदी के इंटरव्यू की 10  बातें 
1- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आरबीआई के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल के इस्तीफे को लेकर कहा कि उन्होंने खुद निजी कारणों से इसकी मांग की थी। मैं पहली बार बता रहा हूं। वे इस्तीफा देने के छह-सात महीने पहले से इस बारे में बता रहे थे। यहां तक कि उन्होंने लिखित में भी दिया था। राजनैतिक दबाव को लेकर कोई सवाल ही नहीं उठता है। उन्होंने बतौर आरबीआई गर्वनर अच्छा काम किया।
राम मंदिर अध्यादेश पर पीएम मोदी बोले, कानूनी प्रक्रिया के बाद ही विचार
2- तेलंगाना और मिजोरम में बीजेपी सत्ता में आएगी ऐसी बात ना कोई सोचता था और ना कोई कहता था और ना बीजेपी कहती थी। जिन तीन राज्यों में बीजेपी हारी उसको लेकर पीएम मोदी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में साफ-साफ नतीजा आया जिसमें भारतीय जनता पार्टी की पराजय हुई। लेकिन दो राज्यों में खंडित जनादेश आया।
एक लड़ाई से पाकिस्तान सुधर जाएगा, यह सोचना बहुत बड़ी गलती होगी:PM मोदी
3- दूसरी बात है कि 15 साल की सत्ता विरोधी लहर को लेकर हमारे लोग मैदान में थे। स्वाभाविक है जो कुछ भी हमारी कमी हुई है उसकी हम चर्चा भी कर रहे हैं और योजना भी कर रहे हैं। उसके साथ-साथ हरियाणा में स्थानीय चुनाव में जीत गए। त्रिपुरा के अंदर 90 से 95 फीसदी सीटों पर जीत हासिल हुई। जम्मू कश्मीर में 74 पोलिंग हुई और बीजेपी व उससे जुड़े लोगों की जीत हुई। जीत और हार ही एक मापदंड नहीं होता है।
4-सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भी पाकिस्तान की ओर से सीमा पर हो रही गोलीबारी को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि एक लड़ाई से पाकिस्तान सुधर जाएगा, यह सोचना बहुत बड़ी गलती होगी। पाकिस्तान को सुधारने में अभी और समय लगेगा।
5- पीएम मोदी ने कहा कि अब ईमानदारी का माहौल बना है और टैक्स देने वालों की संख्या बढ़ी है। आज लोगों को बैंकिंग सेक्टर के माध्यम से काम करने की इच्छा जग रही है। दूसरा हमारे देश में करेंसी जीडीपी की तुलना में कम होती जा रही है ये अपने आप में शुभ संकेत है। अगर सब पहले के हिसाब से चलता तो आज इतनी बड़ी संख्या में नोटों के ढेर होते कि हमारे देश में चीजें चलना मुश्किल हो जाता। 
6-आज हिन्दुस्तान में गरीब व्यक्ति को पांच लाख तक इलाज की सुविधा आयुष्मान भारत योजना के तहत मिलती है। अभी इस योजना को 100 दिन भी नहीं हुए हैं और सात से आठ लाख लोगों ने सुविधा ली है। लोग तीन चार साल से परेशानी झेल रहे हो और आज उसे मुक्ति मिलती हो तो मैं उसे कैसे असफल मान सकता हूं।
7-दुनिया में आज क्लामेट चेंज की चर्चा होती है और भारत उसमें कभी दोषी माना जाता था और हमारी दुनिया में पर्यावरण खराब करने वाले देश में गिनती होती थी। लेकिन 2018 में चैंपियन ऑफ अर्थ का अवॉर्ड मिलता हो तो इससे बड़ी क्या बात होगी।
8-विजय माल्या, नीरव मोदी पर पीएम मोदी ने कहा कि इन लोगों को भागना इसलिए पड़ रहा है क्योंकि उन्हें यहां कानून का पालन करना पड़ेगा। हमने कड़ा कानून बनाया है। जो भागे हैं वे आज नहीं तो कल भारत लाए जाएंगे।
9- 2019 का लोकसभा चुनाव क्या पीएम मोदी बनाम अन्य होने वाला है, इस पर उन्होंने कहा कि यह चुनाव जनता बनाम महागठबंधन होने वाला है।
10-जीएसटी पर पीएम मोदी ने कहा कि पहले हर मुकाम पर टैक्स लगता था तो अब आसानी हुई है। हमारे देश में 30-40 फीसदी चीजें टैक्स वाली चीजें थीं। गब्बर सिंह टैक्स बोले जाने को लेकर पीएम ने कहा कि जिसकी जैसी सोच।

No comments