Header Ads

नवाबों की नगरी से निकलकर मायानगरी मुंबई में तहल्का मचाएंगी : यामिनी सिंह



लखनऊ से निकलकर मायानगरी मुंबई में अपने हसीन सपनों को ऊंची उड़ान देने के लिए, यामिनी सिंह ने दस्तक दे दी है। यामिनी का मान्ना है कि उनकी, इस सफलता के पीछे उनके माता - पिता का भरपुर साथ एवं आषिर्वाद हैं यामिनी सिंह के पिता भी, फिल्म जगत में बतौर एक्टर पहचान बनना चाहते थें। लेकिन घर की जिम्मेदारी की वजह से वह खुद अपने सपने को साकार तो ना कर सके, लेकिन अपनी बेटी यामिनी को प्रोत्साहन देकर, आज इस मुकाम पर पहुँचा कर गर्व महसूस कर रहे हैं। यामिनी सिंह के माता को पुर्ण विश्वास ही नहीं पूरा यकीन है कि, मेरी बेटी यामिनी ज़रूर देश की शान बनेगी। यामिनी आज जो कुछ कर रही है उसे देख, सुनकर खुद को गोर्वंचित महसूस करती हूं। कहते है न आज के समय में बेटी किसी से कम नहीं है। फिल्मी जगत में इतने बड़े- बड़े स्टार्स के, बेटे बेटियों को पदार्पण करने की आए दिन सुर्खियों में खबर छाई रहती है। ठीक इसी बीच उत्तर प्रदेश के नवाबों की नगरी लखनऊ से यामिनी सिंह का नाम  फिल्मी गलियारों में सुनने को मिलता है। अभिनेत्री यामिनी सिंह ने एक हिंदी फिल्म के साथ-साथ 2 साउथ की फिल्मों को भी हाल ही में पूरा किया है। अब तक कई धारावाहिक व रीजनल सिनेमा के साथ - साथ कई प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक एड्स कर चुकी है। यामिनी सिंह जल्द बड़ी बैनर की फिल्म के साथ धमाकेदार एंट्री कर तहलका मचाने जा रही है। यामिनी के मुताबिक वह  ग्लैमरस किरदार करना पसंद करेंगी। 
क्योंकि वह जीवन में खुद काफी ग्लैमरस हैं, यामिनी का सपना है कि बिज़नेस बुनैन बनकर, अनाथ, गरीब, बेसहारा बच्चे को सहायता करना चाहती है। और अपने अपने साकार करने के लिए दिन - रात प्रयत्न कर रही है यामिनी कहती है किरदार को कलाकार ही जीता है जो इस इंडस्ट्री से नहीं है वो कलाकार का महत्व नहीं समझ पाते है और सफलता मिलने में समय लगने पर लोगो कोसने लगते है, लेकिन लाख परेशानियों के बावजूद अपने लक्ष्य से पीछे नहीं हटना चाहिए। मैं अपने लक्ष्य को पूरा करने के लिए, मंजिलें- ए- सफर  तय कर रही हूं। मेरी मां और पिता का साथ और मेरे ऊपर पूरा विश्वास है तो, मै घबराने वाले में से नहीं हूं। लाख परेशानियों के बावजूद मै अपने मंजिल के पथ पर बढ़ रही हूं।...

No comments